Mooli Gajar ka mix Achaar । सर्दियों के लिये खास गाजर मूली का अचार । Gaazar Muli Pickle

gajar-mooli-adarak-achar

भोजन के साथ अचार का स्वाद भोजन के स्वाद और ज़ायको बढा़ देने का काम करता है. गाजर, मूली, अदरक और हरी मिर्च का अचार आपको काफी पसंद आएगा.  सादे खाने को मसालेदार और तीखा स्वाद देने के लिए इस अचार को एक बार बनाकर रख लीजिए और पूरे 3 से 4 माह तक मज़े से सेवन कीजिए.

Mooli Gajar ka mix Achaar । सर्दियों के लिये खास गाजर मूली का अचार । Gaazar Muli Pickle

निर्देश

तैयारी के लिए

500 ग्राम मूली, 250 ग्राम गाजर, 50 ग्राम अदरक और 50 ग्राम. हरी मिर्च को इसे अच्छे से धोकर पानी सूखने तक सुखा कर ले लीजिए.

gajar mooli ka achar

बनाने की विधि

मूली को 2 इंच के टुकड़ों में काट लीजिए और इन टुकडों को लम्बाई में पतले काट लीजिए. गाजर को भी इसी तरह से काट कर तैयार कर लीजिए और प्याले में निकाल लीजिए.

gajar mooli ka acharअदरक को लम्बाई में पतला पतला काट कर और छोटा करते हुए 2 या 3 भाग करते हुए काट लीजिए और प्याले में निकाल लीजिए.

gajar mooli ka acharहरी मिर्च को लम्बाई में दो भाग करते हुए काट लीजिए और इसे भी प्याले में निकाल लीजिए. अब इस सब में 2 छोटे चम्मच नमक डाल कर अच्छे से मिक्स कर दीजिए.

gajar mooli ka acharसभी चीजों के अच्छे से मिक्स हो जाने पर इन्हें कंटेनर में डाल कर भर दीजिए और कंटेनर को बंद कर के 24 घंटे के लिए रख दीजिए. 10-12 घंटे के बाद कंटेनर को एक बार अच्छे से हिला दीजिए ताकी कंटेनर में रखी सामग्री अच्छे से मिक्स हो जाए.

gajar mooli ka acharअगले दिन यानी के 24 घंटे बाद कंटेनर के अंदर मूली गाजर का जो जूस नीचे जमा हो गया है उसे अलग करेंगे इसके लिए किसी प्याले के ऊपर छलनी रख कर इस पर कंटेनर में रखी मूली गाजर डाल दीजिए ऐसा करने से सारा जूस नीचे प्याले में निकल जाएगा. 10 मिनिट के लिए मूली गाजर को छलनी में ही रखे रहने दीजिए ताकी सारा जूस इसमें से निकल कर प्याले में आ जाए.

gajar mooli ka acharसारा जूस निकल जाने के बाद मूली, गाजर, अदरक, मिर्च को किसी ट्रे पर डाल कर अच्छे से फैला दीजिए और धूप या पंखे की हवा के नीचे रख दीजिए ताकि बचा हुआ जूस भी सूख जाए.

gajar mooli ka acharमूली गाजर सूख कर तैयार हैं, मूली-गाजर को प्याले में निकाल लीजिए.

gajar mooli ka acharपैन में सरसों का तेल डाल कर अच्छे से गरम कर लीजिए. तेल इतना गरम करें की तेल में से धुआं उठता दिखाई दे. तेल गरम होने के बंद गैस बंद कर दीजिए और तेल को थोड़ा ठंडा होने दीजिए.

gajar mooli ka acharजब तक तेल गरम हो रहा है तब तक अचार में 2 छोटे चम्मच नमक, 1 छोटी चम्मच हल्दी पाउडर, 1 छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर, ½ छोटी चम्मच काली मिर्च, अजवायन ½ छोटी चम्मच, 6 छोटी चम्मच दरदरा कुटा सरसों पाउडर डाल दीजिए.

gajar mooli ka acharतेल के हल्का ठंडा होने पर इसमें हींग डाल कर मिक्स कर दीजिए और इस तेल को अचार में डाल कर अच्छे से मिक्स कर लीजिए.

gajar mooli ka acharसारे मसाले अच्छे से मिल जाने के बाद इसमें 2 टेबल स्पून सिरका डाल कर मिला दीजिए. मूली गाजर का स्वादिष्ट अचार बन कर तैयार है. इस अचार का सेवन अभी भी किया जा सकता हैं, पर अचार का असली स्वाद 3 दिन के बाद ही मिलेगा, जब मूली-गाजर-अदरक और हरी मिर्च मसाले को अच्छे से सोख लेंगे. अचार को किसी भी कन्टेनर में भरकर रख दीजिए और 2 से 3 दिन तक सूखे साफ चम्मच से अचार को ऊपर नीचे करते रहिए. यह अचार पूरे 3 से 4 महीनों तक रखकर खाया जा सकता है.

gajar mooli ka achar

सुझाव

  • अगर गाजर के अंदर का पीला भाग सख्त हो और आपको पसंद न हो तो आप उसे हटा सकते हैं.
  • तेल को बिना गरम किए भी उपयोग में ला सकते हैं. लेकिन अगर आप तेल का तीखापन पसंद नहीं करते हैं तो आप इसे गरम करके उपयोग में ला सकते हैं.
  • सिरका डालने से अचार का स्वाद बढ़ता है और अचार की शैल्फ लाइफ भी बढ़ जाती है.
  • जिस बर्तन में अचार बना रहे हो वह अच्छे से साफ और सूखा होना चाहिए.
  • जब भी अचार निकालें, तो साफ और सूखी चम्मच का ही उपयोग कीजिए. अचार को जिस कन्टेनर में रख रहे हैं, उसे उबले पानी से अच्छे से धो ले और फिर धूप या ओवन में सुखा लीजिए. ध्यान रखें कि कन्टेनर में किसी भी तरह की नमी न रहें.

Mooli Gajar ka mix Achaar । सर्दियों के लिये खास गाजर मूली का अचार gajar-mooli-adarak-achar
Author: 
Recipe type: Pickle
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • मूली - 500 ग्राम (छिली हुई)
  • गाजर - 250 ग्राम (छिली हुई)
  • अदरक - 50 ग्राम (छिली हुई)
  • हरी मिर्च - 50 ग्राम
  • नमक - 2 छोटी चम्मच
  • सरसों का तेल - ½ कप
  • लल मिर्च पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • हल्दी पाडर - 1 छोटी चम्मच
  • नमक - 2 छोटी चम्मच
  • काली मिर्च - ½ छोटी चम्मच (दरदरी कुटी हुई)
  • अजवायन - ½ छोटी चम्मच
  • सरसों पाउडर - 6 छोटी चम्मच (दरदरी कुटी हुई)
  • हींग - 2 पिंच
  • सिरका - 2 टेबल स्पून
Instructions
  1. ग्राम मूली, 250 ग्राम गाजर, 50 ग्राम अदरक और 50 ग्राम. हरी मिर्च को इसे अच्छे से धोकर पानी सूखने तक सुखा कर ले लीजिए.
  2. मूली को 2 इंच के टुकड़ों में काट लीजिए और इन टुकडों को लम्बाई में पतले काट लीजिए. गाजर को भी इसी तरह से काट कर तैयार कर लीजिए और प्याले में निकाल लीजिए.
  3. अदरक को लम्बाई में पतला पतला काट कर और छोटा करते हुए 2 या 3 भाग करते हुए काट लीजिए और प्याले में निकाल लीजिए.
  4. हरी मिर्च को लम्बाई में दो भाग करते हुए काट लीजिए और इसे भी प्याले में निकाल लीजिए. अब इस सब में 2 छोटे चम्मच नमक डाल कर अच्छे से मिक्स कर दीजिए.
  5. सभी चीजों के अच्छे से मिक्स हो जाने पर इन्हें कंटेनर में डाल कर भर दीजिए और कंटेनर को बंद कर के 24 घंटे के लिए रख दीजिए. 10-12 घंटे के बाद कंटेनर को एक बार अच्छे से हिला दीजिए ताकी कंटेनर में रखी सामग्री अच्छे से मिक्स हो जाए.
  6. अगले दिन यानी के 24 घंटे बाद कंटेनर के अंदर मूली गाजर का जो जूस नीचे जमा हो गया है उसे अलग करेंगे इसके लिए किसी प्याले के ऊपर छलनी रख कर इस पर कंटेनर में रखी मूली गाजर डाल दीजिए ऐसा करने से सारा जूस नीचे प्याले में निकल जाएगा. 10 मिनिट के लिए मूली गाजर को छलनी में ही रखे रहने दीजिए ताकी सारा जूस इसमें से निकल कर प्याले में आ जाए.
  7. सारा जूस निकल जाने के बाद मूली, गाजर, अदरक, मिर्च को किसी ट्रे पर डाल कर अच्छे से फैला दीजिए और धूप या पंखे की हवा के नीचे रख दीजिए ताकि बचा हुआ जूस भी सूख जाए.
  8. मूली गाजर सूख कर तैयार हैं, मूली-गाजर को प्याले में निकाल लीजिए.
  9. पैन में सरसों का तेल डाल कर अच्छे से गरम कर लीजिए. तेल इतना गरम करें की तेल में से धुआं उठता दिखाई दे. तेल गरम होने के बंद गैस बंद कर दीजिए और तेल को थोड़ा ठंडा होने दीजिए.
  10. जब तक तेल गरम हो रहा है तब तक अचार में 2 छोटे चम्मच नमक, 1 छोटी चम्मच हल्दी पाउडर, 1 छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर, ½ छोटी चम्मच काली मिर्च, अजवायन ½ छोटी चम्मच, 6 छोटी चम्मच दरदरा कुटा सरसों पाउडर डाल दीजिए,
  11. तेल के हल्का ठंडा होने पर इसमें हींग डाल कर मिक्स कर दीजिए और इस तेल को अचार में डाल कर अच्छे से मिक्स कर लीजिए.
  12. सारे मसाले अच्छे से मिल जाने के बाद इसमें 2 टेबल स्पून सिरका डाल कर मिला दीजिए. मूली गाजर का स्वादिष्ट अचार बन कर तैयार है. इस अचार का सेवन अभी भी किया जा सकता हैं, पर अचार का असली स्वाद 3 दिन के बाद ही मिलेगा, जब मूली-गाजर-अदरक और हरी मिर्च मसाले को अच्छे से सोख लेंगे. अचार को किसी भी कन्टेनर में भरकर रख दीजिए और 2 से 3 दिन तक सूखे साफ चम्मच से अचार को ऊपर नीचे करते रहिए. यह अचार पूरे 3 से 4 महीनों तक रखकर खाया जा सकता है.

 

1 thought on “Mooli Gajar ka mix Achaar । सर्दियों के लिये खास गाजर मूली का अचार । Gaazar Muli Pickle”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Rate this recipe: