Instant Moong Dal Halwa | मूंग की दाल का हलवा बिना दाल भिगोये झटपट बनाये

बच्चे अक्सर मूंग की दाल के हलवे की डिमांड करते रहते हैं. इस हलवे को बनाने के लिए दाल को भिगोकर पीसकर तैयार करना होता है, लेकिन इसका आपको कोई शार्ट कट मिल जाए, तो आप जब चाहे तब यह हलवा बना सकते हैं. आज की हमारी इस पेशकश- मूंग की दाल का हलवा बिना दाल भिगोये झटपट बनाये और अपने परिवार के चेहरे पर इस डेजर्ट के साथ मुस्कान ले आएं. मूंग की दाल का हलवा बिना दाल भिगोये बना हुआ भी एकदम बढ़िया स्वाद का लगता है और दिखने में सुंदर भी.

Instant Moong Dal Halwa | मूंग की दाल का हलवा बिना दाल भिगोये झटपट बनाये

निर्देश

तैयारी के लिए

मूंगदाल को कपड़े से पौंछकर ले लीजिए.

instant moong dal halwa

बनाने की विधि

पैन में मूंगदाल डालिए और इसे लगातार चलाते हुए गोल्डन ब्राउन होने तक भून लीजिए तकरीबन 5 मिनिट. दाल के गोल्डन ब्राउन रंग आते ही दाल भुनकर तैयार है. इसे एक प्लेट में निकाल लीजिए और हल्का ठंडा होने दीजिए.

instant moong dal halwaदाल को मिक्सर जार में डालकर बिल्कुल हल्का दरदरा पीस लीजिए. पिसी हुई दाल को 1 मिनिट बाद ही जार का ढक्कन खोलकर एक प्लेट में निकालें क्योंकि पिसा हुआ आटा उड़ सकता है.

instant moong dal halwaपैन में 3 से 4 टेबल स्पून घी डाल दीजिए. इसमें पिसी हुई दाल डालकर हल्का गोल्डन ब्राउन होने तक 5 मिनिट भून लीजिए.

instant moong dal halwaभुनी दाल में 500 मि ली दूध डालकर मिला दीजिए. इस दौरान आंच धीमी रखें. इसमें 1 कप पानी डालकर धीरे-धीरे पकने दीजिए. बीच-बीच में हलवे को चमचे से चलाते रहिए ताकि इसमें गुठलियां ना पड़े.

instant moong dal halwaमेवे भूनने के लिए एक दूसरे पैन में थोड़ा सा घी डालकर गरम कीजिए. घी के पिघलने पर इसमें कटे हुए काजू, बादाम और किशमिश डालकर हल्का सा भून लीजिए. भुनने के बाद इन्हें एक प्लेट में निकाल लीजिए.

instant moong dal halwaइसी बीच, हलवे के गाढ़ा होने पर इसमें चीनी डालकर हलवे को चलाते हुए पकाइए. इसके बाद, थोड़े से मेवे बचाकर हलवे में भुने हुए मेवे डालकर मिक्स कर दीजिए. हलवे में थोड़ा सा घी और इलायची पाउडर डाल दीजिए. हलवे को थोड़ा और पका लीजिए. हलवे में बचा हुआ घी भी डालकर मिक्स कर दीजिए और इसे 1 से 2 मिनिट पका लीजिए. इसे प्लेट में निकाल लीजिए.

instant moong dal halwa

परोसिए

हलवे को भुने मेवे और पिस्ते डालकर इसकी गार्निशिंग कर दीजिए. ज़ायके में लाज़वाब मूंग दाल का हलवा तैयार है. हलवा में तैरते घी के साथ यह आपके परिवार को बहुत भाएगा. आप इसे किसी भी खास अवसर या त्यौहार पर बना सकते हैं.

instant moong dal halwa

सुझाव

  • अगर दाल में पाउडर है, तो आप उसे धोकर और कपड़े से पौंछकर ले लीजिए.
  • आप चाहे तो पानी ना डालकर पूरे दूध से भी हलवा बना सकते हैं या दूध कम करके अलग से मावा भूनकर भी हलवे में मिलाया जा सकता है.
  • हलवे में अपनी पसंद के अनुसार घी कम या ज्यादा कर सकते हैं.
  • जब दाल में चीनी और दूध डाल दें तब हलवे को जल्दी जल्दी चलाते हुए पकाएं.
  • हलवे को लगातार चलाते हुए घी डालते हुए तब तक पकाएं जब तक कि हलवा घी न छोड़ दे.

Instant Moong Dal Halwa | मूंग की दाल का हलवा बिना दाल भिगोये झटपट बनाये instant-moong-dal-halwa
Author: 
Recipe type: Sweets
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • मूंग दाल - 1 कप (200 ग्राम)
  • चीनी - 1 कप (200 ग्राम)
  • घी - ½ कप (125 ग्राम)
  • फुल क्रीम दूध - 500 मि ली
  • काजू - 20 से 25 (कटे हुए)
  • बादाम - 20 से 25 (कटे हुए)
  • किशमिश - 2 टेबल स्पून
  • पिस्ते - 15 से 20
  • पाउडर - इलायची (6 से 7)
Instructions
  1. मूंगदाल को कपड़े से पौंछकर ले लीजिए.
  2. पैन में मूंगदाल डालिए और इसे लगातार चलाते हुए गोल्डन ब्राउन होने तक भून लीजिए तकरीबन 5 मिनिट. दाल के गोल्डन ब्राउन रंग आते ही दाल भुनकर तैयार है. इसे एक प्लेट में निकाल लीजिए और हल्का ठंडा होने दीजिए.
  3. दाल को मिक्सर जार में डालकर बिल्कुल हल्का दरदरा पीस लीजिए. पिसी हुई दाल को 1 मिनिट बाद ही जार का ढक्कन खोलकर एक प्लेट में निकालें क्योंकि पिसा हुआ आटा उड़ सकता है.
  4. पैन में 3 से 4 टेबल स्पून घी डाल दीजिए. इसमें पिसी हुई दाल डालकर हल्का गोल्डन ब्राउन होने तक 5 मिनिट भून लीजिए.
  5. भुनी दाल में 500 मि ली दूध डालकर मिला दीजिए. इस दौरान आंच धीमी रखें. इसमें 1 कप पानी डालकर धीरे-धीरे पकने दीजिए. बीच-बीच में हलवे को चमचे से चलाते रहिए ताकि इसमें गुठलियां ना पड़े..
  6. मेवे भूनने के लिए एक दूसरे पैन में थोड़ा सा घी डालकर गरम कीजिए. घी के पिघलने पर इसमें कटे हुए काजू, बादाम और किशमिश डालकर हल्का सा भून लीजिए. भुनने के बाद इन्हें एक प्लेट में निकाल लीजिए.
  7. इसी बीच, हलवे के गाढ़ा होने पर इसमें चीनी डालकर हलवे को चलाते हुए पकाइए. इसके बाद, थोड़े से मेवे बचाकर हलवे में भुने हुए मेवे डालकर मिक्स कर दीजिए. हलवे में थोड़ा सा घी और इलायची पाउडर डाल दीजिए. हलवे को थोड़ा और पका लीजिए. हलवे में बचा हुआ घी भी डालकर मिक्स कर दीजिए और इसे 1 से 2 मिनिट पका लीजिए. इसे प्लेट में निकाल लीजिए.
  8. हलवे को भुने मेवे और पिस्ते डालकर इसकी गार्निशिंग कर दीजिए. ज़ायके में लाज़वाब मूंग दाल का हलवा तैयार है. हलवा में तैरते घी के साथ यह आपके परिवार को बहुत भाएगा. आप इसे किसी भी खास अवसर या त्यौहार पर बना सकते हैं.

 

Amla Candy Spicy | आंवला कैन्डी चटपटी । Salted Amla Candy

आंवला बहुत ही गुणकरी फल है. बच्चों को इसका कसैलापन कम पसंद आता है. ऎसे में इसके पौषक तत्वों को बच्चों को दे पाना काफी मुश्किल रहता है, लेकि आंवला चटपटी कैन्डी बनाकर आप यह काम पूरा कर सकते हैं. यह नमकीन कैन्डी सिर्फ बच्चों को ही नही बड़ों को भी खूब भाती है. नरम-नरम आंवला कैन्डी चटपटी एक बार बनाकर रख लीजिए और पूरे 6 माह तक रोज बच्चों को किसी भी समय दीजिए, वो मज़े से खाएंगे.

Amla Candy Spicy | आंवला कैन्डी चटपटी । Salted Amla Candy

निर्देश

विधि

बर्तन में पानी डालकर इसे ढककर पानी उबलने रख दीजिए. इसी दौरान, आंवलों को धोकर छलनी में रख लीजिए. पानी में उबाल आने के बाद, आंवलों की छलनी बर्तन पर रखिए और आंवलों ढक दीजिए. आंवलों को 8 मिनिट तक तेज आंच पर भाप में पकने दीजिए.

spicy amla candyपैन गरम होने रख दीजिए.इसमें 1 छोटी चम्मच जीरा, 1 छोटी चम्मच अजवायन, ½ छोटी चम्मच काली मिर्च और 1 पिंच हींग डाल दीजिए. मसाले को हल्का सा आधा- पौना मिनिट भून लीजिए. गैस बंद कीजिए. भुने मसाले को प्याले में निकाल लीजिए ताकि ये जल्दी ठंडे हो जाएं.

spicy amla candyमसालों को मिक्सर जार में 2 छोटी चम्मच काला नमक और ½ छोटी चम्मच जिंजर पाउडर के साथ डाल दीजिए. इन्हें बारीक पीस लीजिए.

spicy amla candy8 मिनिट बाद, आंवलें पककर तैयार हैं. गैस बंद कर दीजिए. छलनी को बर्तन से उतार लीजिए ताकि आंवले ठंडे हो जाएं.

spicy amla candyआंवलों के ठंडे होने पर इनकी कलियां अलग कर लीजिए और बीज हटा दीजिए. कलियों को दो भाग में काटकर पतला कर लीजिए. इनमें मसाले डालकर अच्छे से मिला दीजिए.

spicy amla candy आंवलों को प्याले में निकालिए और 1 घंटे के लिए रखे रहने दीजिए. ताकि मसाले अच्छे से आंवलों में ज़ज़्ब हो जाएं.

spicy amla candy1 घंटे बाद, आंवला कैन्डी को सुखाने के लिए ट्रै में डाल दीजिए और पतला पतला फैला दीजिए. आप आंवला कैन्डी को धूप में रख सकते हैं, आंवला कैन्डी 2 दिन में सूख जाती है या पंखे की हवा में भी इसे सुखा सकते हैं.

spicy amla candy

परोसिए

आंवला कैन्डी के सूख जाने पर इन्हें किसी भी कन्टेनर में भरकर रख दीजिए और 6 महीने तक खाइए.

सुझाव

  • आंवलों को भाप में पकाते समय आंच तेज ही रखे ताकि पानी में भाप लगातार बनी रहे.
  • साबुत मसालों को ज्यादा ना भूने़, हल्का सा बस नमी दूर होने तक ही भूनें.
  • आंवला कैन्डी को पूरा नही सुखाएं, हल्का सा नरम रखें. आंवला केन्डी को धूप या पंखे की हवा में सुखा सकते हैं.

Amla Candy Spicy | आंवला कैन्डी चटपटी spicy-amla-candy
Author: 
Recipe type: Miscellaneous
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • आंवले - 300 ग्राम
  • काला नमक - 2 छोटी चम्मच
  • जीरा - 1 छोटी चम्मच
  • अजवायन - 1 छोटी चम्मच
  • काली मिर्च - ½ छोटी चम्मच
  • जिंजर पाउडर - ½ छोटी चम्मच
  • हींग - 1 पिंच
Instructions
  1. बर्तन में पानी डालकर इसे ढककर पानी उबलने रख दीजिए. इसी दौरान, आंवलों को धोकर छलनी में रख लीजिए. पानी में उबाल आने के बाद, आंवलों की छलनी बर्तन पर रखिए और आंवलों ढक दीजिए. आंवलों को 8 मिनिट तक तेज आंच पर भाप में पकने दीजिए.
  2. पैन गरम होने रख दीजिए.इसमें 1 छोटी चम्मच जीरा, 1 छोटी चम्मच अजवायन, ½ छोटी चम्मच काली मिर्च और 1 पिंच हींग डाल दीजिए. मसाले को हल्का सा आधा- पौना मिनिट भून लीजिए. गैस बंद कीजिए. भुने मसाले को प्याले में निकाल लीजिए ताकि ये जल्दी ठंडे हो जाएं.
  3. मसालों को मिक्सर जार में 2 छोटी चम्मच काला नमक और ½ छोटी चम्मच जिंजर पाउडर के साथ डाल दीजिए. इन्हें बारीक पीस लीजिए.
  4. मिनिट बाद, आंवलें पककर तैयार हैं. गैस बंद कर दीजिए. छलनी को बर्तन से उतार लीजिए ताकि आंवले ठंडे हो जाएं.
  5. आंवलों के ठंडे होने पर इनकी कलियां अलग कर लीजिए और बीज हटा दीजिए. कलियों को दो भाग में काटकर पतला कर लीजिए. इनमें मसाले डालकर अच्छे से मिला दीजिए.
  6. आंवलों को प्याले में निकालिए और 1 घंटे के लिए रखे रहने दीजिए. ताकि मसाले अच्छे से आंवलों में ज़ज़्ब हो जाएं.
  7. घंटे बाद, आंवला कैन्डी को सुखाने के लिए ट्रै में डाल दीजिए और पतला पतला फैला दीजिए. आप आंवला कैन्डी को धूप में रख सकते हैं, आंवला कैन्डी 2 दिन में सूख जाती है या पंखे की हवा में भी इसे सुखा सकते हैं.

 

Frozen Mini Cheese Samosa । फ्रोजन मिनी समोसा । How to freeze Samosa at Home

बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक गरमागरम समोसों के दीवाने होते हैं लेकिन घर पर बार-बार मेहनत करके समोसे कौन तैयार करे. इसका आसान तरीका है- फ्रोजन मिनी समोसा. चीज़ और पनीर की स्टफिंग से तैयार ये समोसे तुरंत बनाकर तलने में तो स्वादिष्ट लगते ही हैं, फ्रीज करने के बाद भी इनके स्वाद में कोई कमी नही आती. आप एक बार में ये मिनी समोसे बनाकर फ्रीज कर लीजिए और 1 से 2 महीनों तक जब मन करे, तब फ्रोजन मिनी समोसा को तलकर चाय या कॉफी के साथ इसके ज़ायके का लुत्फ उठाइए.

Frozen Mini Cheese Samosa । फ्रोजन मिनी समोसा । How to freeze Samosa at Home

निर्देश

तैयारी के लिए

समोसा बनाने के लिए 150 ग्राम पनीर को क्रम्बल कर लीजिए. इसमें कद्दूकस किया प्रोसेस्ड चीज़ मिला दीजिए.

frozen mini cheese samosa

बनाने की विधि

एक बड़े प्याले में 1 कप मैदा निकाल लीजिए और मैदा में 1/4 कप सूजी, 1/4 छोटी चम्मच नमक, 1/4 छोटी चम्मच अजवायन और 2 टेबल स्पून तेल डाल दीजिए. सभी चीजों को अच्छी तरह मिला लीजिये. थोड़ा थोड़ा पानी डालते हुए समोसे के आटे जैसा सख्त आटा गूंथ लीजिये (इतना आटा गूंथने में 1/4 कप पानी लगा है). आटे को ढककर 20 मिनिट के लिये सैट होने रख दीजिए.

frozen mini cheese samosaमिलाकर रखे हुए क्रम्बल्ड पनीर और प्रोसेस्ड चीज़ में 1/4 छोटी चम्मच नमक, ¼ छोटी चम्मच दरदरी कुटी काली मिर्च और 1 बारीक कटी हरी मिर्च डाल दीजिए. सभी चीजों को अच्छे से मिक्स कर लीजिए.

frozen mini cheese samosa20 मिनिट में आटा सैट होकर तैयार है. आटे को थोड़ा मसल कर चिकना कर लीजिए. इससे छोटी छोटी लोइयां तोड़कर पेड़े का आकार दीजिए और किनारों से बेलते हुए ओवल शेप दे दीजिए.

frozen mini cheese samosaबेली गई लोई को चाकू की सहायता से दो बराबर भागों में काट लीजिये. एक भाग को तिकोन बनाते हुये मोड़िए और तिकोन बनाते समय दोनों सिरे पानी से चिपका दीजिए.

frozen mini cheese samosaतिकोन में करीब 1 चम्मच स्टफिंग भरिये. स्टफिंग भरने के बाद, पीछे के किनारे में एक प्लेट डाल दीजिये, ऊपर के दोनों किनारों को पानी की सहायता से चिपका दीजिये. फिर, फोर्क की मदद से चिपके हुए भाग पर दबाव देते हुए निशान बना लीजिए ऐसा करने से समोसा अच्छे से चिपक जाता है और साथ ही डिज़ाइन भी बन जाती है. समोसे को प्लेट पर रख दीजिए और इसी तरह से सारे समोसे बनाकर तैयार कर लीजिये. इतने आटे से 24 समोसे बनकर तैयार हो जाते हैं.

frozen mini cheese samosaकढ़ाही में तेल डालकर गरम कीजिये. समोसे तलने के लिए मीडियम गरम तेल चाहिए. तेल को चैक कर लीजिए. तेल के गरम होने पर इसमें जितने समोसे कढा़ई में आ जाएं उतने समोसे तलने के लिए डाल दीजिए. समोसों को पलट पलट कर गोल्डन ब्राउन होने तक मीडियम आंच पर तल लीजिए.

frozen mini cheese samosaसमोसे गोल्डन ब्राउन होने पर कलछी की मदद स‌े निकालिए और कढ़ाही के ऊपर रोककर रख लीजिए ताकि अतिरिक्त तेल समोसों स‌े निकल कर कढ़ाही में वापस चला जाय. समोसे निकालकर प्लेट में रख लीजिए. समोसे को तलने 4 से 5 मिनिट का समय लग जाता है.

frozen mini cheese samosaसमोसों को फ्रीज करने के लिए, समोसे स्टफ कीजिए और इन्हें प्लेट में थोड़ी-थोड़ी दूरी पर लगाते हुए रखें ताकि समोसे एक दूसरे के साथ चिपकें नहीं. अगर ज्यादा समोसे हों तो समोसों के ऊपर बटर पेपर बिछा दीजिए और फिर उसके ऊपर समोसों को लगा दीजिए. इसके बाद समोसों को फ्रीजर में रख दीजिए और 5-6 घंटे बाद जब समोसे सख्त हो जाएं तब इन्हें किसी भी स्टील या प्लास्टिक के कंटेनर में डाल कर अच्छे से बंद करके वापस फ्रीजर में रख दीजिए. फ्रोजन समोसे को तलने के लिए एकदम गरम तेल में डालें ओर इन्हें भी पलट पलट कर चारों ओर से गोल्डन ब्राउन होने तक तेज आंच पर तल लीजिए. तले हुए समोसों को प्लेट में निकाल लीजिए.

frozen mini cheese samosa

परोसिए

गरमागरम चीज़ मिनी समोसों को किसी भी समय सर्व कीजिए. समोसों को आप टमैटो सॉस हरे धनिये की चटनी या अपनी मनपसंद किसी भी चटनी के साथ परोस सकते हैं.

सुझाव

  • बच्चों के लिए समोसे बना रहे हैं, तो मिर्च ना डालें.
  • समोसे के लिए आटा सख्त गूंथकर ही तैयार करें.
  • समोसे में स्टफिंग भरने के बाद समोसे के किनारे को पानी से अच्छी तरह से चिपकाकर बंद कर लीजिए, ताकि समोसे की स्टफिंग बाहर न निकले.
  • फ्रोजन समोसा को तेज गरम तेल में तलिए क्योंकि समोसे डालते ही तेल का तापमान एकदम से कम हो जाता है. इसलिए आंच भी तेज ही रखें.
  • समोसों को तेल में बहुत ज्यादा देर ना रखें क्योंकि चीज़ पिघल सकता है.

Frozen Mini Cheese Samosa । फ्रोजन मिनी समोसा frozen-mini-cheese-samosa
Author: 
Recipe type: Snacks
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • मैदा - 1 कप (125 ग्राम)
  • सूजी - ¼ कप (50 ग्राम)
  • तेल - 2 टेबल स्पून
  • अजवायन - ¼ छोटी चम्मच
  • पनीर - 150 ग्राम
  • प्रोसेस्ड चीज़/ मॉजिरेला चीज़ - ½ कप (50 ग्राम) (कद्दूकस किया हुआ)
  • हरी मिर्च - 1 (बारीक कटी हुई)
  • काली मिर्च - ¼ छोटी चम्मच (दरदरी कुटी हुई)
  • नमक - ½ छोटी चम्मच या स्वादानुसार
  • तेल - तलने के लिए
Instructions
  1. समोसा बनाने के लिए 150 ग्राम पनीर को क्रम्बल कर लीजिए. इसमें कद्दूकस किया प्रोसेस्ड चीज़ मिला दीजिए.
  2. एक बड़े प्याले में 1 कप मैदा निकाल लीजिए और मैदा में ¼ कप सूजी, ¼ छोटी चम्मच नमक, ¼ छोटी चम्मच अजवायन और 2 टेबल स्पून तेल डाल दीजिए. सभी चीजों को अच्छी तरह मिला लीजिये. थोड़ा थोड़ा पानी डालते हुए समोसे के आटे जैसा सख्त आटा गूंथ लीजिये (इतना आटा गूंथने में ¼ कप पानी लगा है). आटे को ढककर 20 मिनिट के लिये सैट होने रख दीजिए.
  3. मिलाकर रखे हुए क्रम्बल्ड पनीर और प्रोसेस्ड चीज़ में ¼ छोटी चम्मच नमक, ¼ छोटी चम्मच दरदरी कुटी काली मिर्च और 1 बारीक कटी हरी मिर्च डाल दीजिए. सभी चीजों को अच्छे से मिक्स कर लीजिए. .
  4. मिनिट में आटा सैट होकर तैयार है. आटे को थोड़ा मसल कर चिकना कर लीजिए. इससे छोटी छोटी लोइयां तोड़कर पेड़े का आकार दीजिए और किनारों से बेलते हुए ओवल शेप दे दीजिए.
  5. बेली गई लोई को चाकू की सहायता से दो बराबर भागों में काट लीजिये. एक भाग को तिकोन बनाते हुये मोड़िए और तिकोन बनाते समय दोनों सिरे पानी से चिपका दीजिए.
  6. तिकोन में करीब 1 चम्मच स्टफिंग भरिये. स्टफिंग भरने के बाद, पीछे के किनारे में एक प्लेट डाल दीजिये, ऊपर के दोनों किनारों को पानी की सहायता से चिपका दीजिये. फिर, फोर्क की मदद से चिपके हुए भाग पर दबाव देते हुए निशान बना लीजिए ऐसा करने से समोसा अच्छे से चिपक जाता है और साथ ही डिज़ाइन भी बन जाती है. समोसे को प्लेट पर रख दीजिए और इसी तरह से सारे समोसे बनाकर तैयार कर लीजिये. इतने आटे से 24 समोसे बनकर तैयार हो जाते हैं.
  7. कढ़ाही में तेल डालकर गरम कीजिये. समोसे तलने के लिए मीडियम गरम तेल चाहिए. तेल को चैक कर लीजिए. तेल के गरम होने पर इसमें जितने समोसे कढा़ई में आ जाएं उतने समोसे तलने के लिए डाल दीजिए. समोसों को पलट पलट कर गोल्डन ब्राउन होने तक मीडियम आंच पर तल लीजिए.
  8. समोसे गोल्डन ब्राउन होने पर कलछी की मदद स‌े निकालिए और कढ़ाही के ऊपर रोककर रख लीजिए ताकि अतिरिक्त तेल समोसों स‌े निकल कर कढ़ाही में वापस चला जाय. समोसे निकालकर प्लेट में रख लीजिए. समोसे को तलने 4 से 5 मिनिट का समय लग जाता है.
  9. समोसों को फ्रीज करने के लिए, समोसे स्टफ कीजिए और इन्हें प्लेट में थोड़ी-थोड़ी दूरी पर लगाते हुए रखें ताकि समोसे एक दूसरे के साथ चिपकें नहीं. अगर ज्यादा समोसे हों तो समोसों के ऊपर बटर पेपर बिछा दीजिए और फिर उसके ऊपर समोसों को लगा दीजिए. इसके बाद समोसों को फ्रीजर में रख दीजिए और 5-6 घंटे बाद जब समोसे सख्त हो जाएं तब इन्हें किसी भी स्टील या प्लास्टिक के कंटेनर में डाल कर अच्छे से बंद करके वापस फ्रीजर में रख दीजिए. फ्रोजन समोसे को तलने के लिए एकदम गरम तेल में डालें ओर इन्हें भी पलट पलट कर चारों ओर से गोल्डन ब्राउन होने तक तेज आंच पर तल लीजिए. तले हुए समोसों को प्लेट में निकाल लीजिए.

 

Baingan Bharta Recipe | बैंगन भर्ता – बैंगन को साबुत भूने बिना बनाईये

आमतौर पर साबुत  बैंगन को भूनकर भर्ता बनाया जाता है, लेकिन बैंगन में कीड़े होने का संदेह अक्सर दिमाग में बना रहता है. इस संदेह को दूर करने के लिए बैंगन भर्ता – बैंगन को साबुत भूने बिना बनाईये. इस भर्ते का स्वाद आपको भुने हुए भर्ते जैसा ही लगेगा. यह मसालेदार बैंगन भर्ता – बैंगन को साबुत भूने बिना बनाईये और चटखारे लेते हुए खाइए.

Baingan Bharta Recipe | बैंगन भर्ता – बैंगन को साबुत भूने बिना बनाईये

निर्देश

तैयारी के लिए

टमाटर और शिमला मिर्च को बारीक काट लीजिए.

unroasted baigan bharta

बनाने की विधि

पैन को गैस पर रखकर गरम कीजिए. पैन गरम होने पर इसमें 2 टेबल स्पून तेल डालकर गरम कीजिए. तेल के गरम होने पर ½ छोटी चम्मच जीरा डाल दीजिए. जीरा भुन जाने पर, ½ पिंच हींग और ¼ छोटी चम्मच हल्दी पाउडर डाल दीजिए.

unroasted baigan bharta2 बारीक कटी हरी मिर्च,  ½ इंच बारीक कटा अदरक डाल दीजिए. मसाले को हल्का सा भून लीजिए. मसाला भुन जाने पर इसमें बारीक कटे टमाटर, ¼ छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर और 1 छोटी चम्मच धनिया पाउडर डाल दीजिए. टमाटर को अच्छे से गल जाने और तेल अलग होने तक पका लीजिए.

unroasted baigan bhartaबीच-बीच में इसे चलाते रहिए. आंच मीडियम रखें. इसी बीच, बैंगन को छीलकर छोटे- छोटे टुकड़ों में काट लीजिए. बैंगन के टुकड़ों को पानी में डालकर रख दीजिए ताकि बैंगन काला न पड़े.

unroasted baigan bhartaमसाला भुन जाने पर, इसमें बारीक कटी शिमला मिर्च डालकर हल्का सा भून लीजिए. इसमें बैंगन के टुकड़े और नमक डाल दीजिए. सारी चीजों को अच्छे से मिक्स करते हुए हल्का सा भून लीजिए. बैंगन में मसाले अच्छे से मिल जाने पर इसे ढककर 4-5 मिनिट पकाएं. जिस प्लेट से आप इसे ढके, उसमें थोड़ा सा पानी डाल दीजिए. इससे बैंगन अपनी ही भाप में अच्छे से पक जाएगा.

unroasted baigan bharta5 मिनिट बाद, भर्ते को चैक कर लीजिए. भर्ता को अच्छे से चला दीजिए. सब्जी को फिर से ढककर 5 मिनिट पकने दीजिए. सब्जी को चैक कीजिए. भर्ता अच्छे से पक चुका है.

unroasted baigan bhartaभरते को मैश कर लीजिए और इसमें गरम मसाला और बारीक कटा हरा धनिया डालकर मिक्स कर दीजिए.

unroasted baigan bharta

परोसिए

बेहतरीन ज़ायके का बैंगन भर्ता बनकर तैयार है,भरते को प्याले में निकल लीजिए. भरते को थोड़ा सा हरा धनिया डालकर गार्निश कीजिए. भर्ते को आप चपाती, परांठे, नान या चावल किसी के भी साथ परोसिये और खाइये.3 से 4 सदस्यों के लिए पर्याप्त

unroasted baigan bhartaसुझाव

  • बैंगन भर्ता बनाने के लिए भर्ता वाला बैंगन लीजिए. बैंगन को चैक कर लीजिए कि यह एकदम चिकना और चमकदार हो. आप इसे दबाकर देखें तो यह दबना भी चाहिए.
  • भर्ता बनाने के लिए आप कोई भी कुकिंग अॉयल यूज कर सकते हैं.
  • अगर आप भर्ता में हल्दी पाउडर, शिमला मिर्च और हींग नापसंद करते हो, तो इनके बिना भी भर्ता बना सकते हैं. आप चाहे तो भर्ते में प्याज लहसुन भी डाल सकते हैं.
  • बैंगन को काटकर पानी में डुबोकर रखें वरना ये काले पड़ जाते हैं.

Baingan Bharta Recipe | बैंगन भर्ता - बैंगन को साबुत भूने बिना बनाईये unroasted-baigan-bharta
Author: 
Recipe type: Main Course
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • बैंगन - 1 (400 ग्राम)
  • टमाटर - 4 (150 ग्राम)
  • शिमला मिर्च - 1
  • जीरा - ½ छोटी चम्मच
  • हींग - ½ पिंच
  • हरी मिर्च - 2 (बारीक कटी हुई)
  • अदरक - ½ इंच टुकड़ा (बारीक कटा हुआ)
  • सरसों का तेल - 2 टेबल स्पून
  • हरा धनिया - 2-3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
  • गरम मसाला - ¼ छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर - ¼ छोटी चम्मच
  • हल्दी पाउडर - ¼ छोटी चम्मच
  • धनिया पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
Instructions
  1. टमाटर और शिमला मिर्च को बारीक काट लीजिए.
  2. पैन को गैस पर रखकर गरम कीजिए. पैन गरम होने पर इसमें 2 टेबल स्पून तेल डालकर गरम कीजिए. तेल के गरम होने पर जीरा डाल दीजिए. जीरा भुन जाने पर, हींग और हल्दी पाउडर डाल दीजिए.
  3. बारीक कटी हरी मिर्च, बारीक कटा अदरक डाल दीजिए. मसाले को हल्का सा भून लीजिए. मसाला भुन जाने पर इसमें बारीक कटे टमाटर, लाल मिर्च पाउडर और धनिया पाउडर डाल दीजिए. टमाटर को अच्छे से गल जाने और तेल अलग होने तक पका लीजिए.
  4. बीच-बीच में इसे चलाते रहिए. आंच मीडियम रखें. इसी बीच, बैंगन को छीलकर छोटे- छोटे टुकड़ों में काट लीजिए. बैंगन के टुकड़ों को पानी में डालकर रख दीजिए ताकि बैंगन काला न पड़े.
  5. मसाला भुन जाने पर, इसमें बारीक कटी शिमला मिर्च डालकर हल्का सा भून लीजिए. इसमें बैंगन के टुकड़े और नमक डाल दीजिए. सारी चीजों को अच्छे से मिक्स करते हुए हल्का सा भून लीजिए. बैंगन में मसाले अच्छे से मिल जाने पर इसे ढककर 4-5 मिनिट पकाएं. जिस प्लेट से आप इसे ढके, उसमें थोड़ा सा पानी डाल दीजिए. इससे बैंगन अपनी ही भाप में अच्छे से पक जाएगा.
  6. मिनिट बाद, भर्ते को चैक कर लीजिए. भर्ता को अच्छे से चला दीजिए. सब्जी को फिर से ढककर 5 मिनिट पकने दीजिए. सब्जी को चैक कीजिए. भर्ता अच्छे से पक चुका है.
  7. भरते को मैश कर लीजिए और इसमें गरम मसाला और बारीक कटा हरा धनिया डालकर मिक्स कर दीजिए.
  8. बेहतरीन ज़ायके का बैंगन भर्ता बनकर तैयार है,भरते को प्याले में निकल लीजिए. भरते को थोड़ा सा हरा धनिया डालकर गार्निश कीजिए. भर्ते को आप चपाती, परांठे, नान या चावल किसी के भी साथ परोसिये और खाइये.

 

 

Gajar Ka Gajrela | गाजर का गजरेला । Gajjar ka special Halwa

गाजर का हलवा तो आमतौर पर सर्दियों में सभी बनाते ही रहते हैं और यह सबका मनपसंद पकवान भी है. अक्सर लोग इसे मावा के साथ बनाते हैं, लेकिन आज दूध के साथ स्पेशल हलवा-गाजर का गजरेला बनाएंगे. कम गाढ़ी कन्सिस्टेन्सी का तैयार होने वाला यह मीठा व्यंजन मेवों के साथ दिखने में काफी उम्दा लगता है. स्वाद में खूब और दिखने में लाज़वाब गाजर का गजरेला आप गरम या ठंडा जैसे चाहे परोस सकते है.

Gajar Ka Gajrela | गाजर का गजरेला । Gajjar ka special Halwa

निर्देश

तैयारी के लिए

500 मि.ली़ दूध उबालने रख दीजिए.

gajar ka gajrela4 धुली और छिली हुई गाजर लीजिए. इसके दोनों किनारे काटकर कद्दूकस कर लीजिए.

gajar ka gajrela

बनाने की विधि

दूध में उबाल आने पर कद्दूकस की हुई गाजर दूध में डाल दीजिए. इसे मिक्स करके गाढ़ा होने तक पकने दीजिए.

gajar ka gajrelaबादाम के पतले-पतले 4 से 5 टुकड़े करते हुए काट लीजिए. काजू को दो टुकड़ों में काट लीजिए. साथ ही इलायची को छीलकर कूटकर पाउडर बना लीजिए.

gajar ka gajrelaगजरेला में गाढ़ी कन्सिस्टेन्सी आने पर इसमें चीनी डालकर मिला दीजिए.

gajar ka gajrelaइसी बीच,मेवे भून लीजिए. मेवे भूनने के लिए पैन में घी डाल दीजिए. घी के पिघलने पर इसमें बादाम और काजू डालकर हल्का सा भून लीजिए.

gajar ka gajrelaथोड़े से भुने मेवे गार्निशिंग के लिए बचाकर बाकी मेवे और इलायची पाउडर हलवे में डालकर मिक्स कर दीजिए.

gajar ka gajrela

परोसिए

उम्दा ज़ायके का गजरेला तैयार है, इसे प्याले में निकाल लीजिए. इसे मेवों से गार्निश कर दीजिए. आप इसे गरमागरम या ठंडा जैसे मर्जी परोस सकते हैं.

gajar ka gajrela

सुझाव

  • मेवों भूने बिना भी यूज कर सकते हैं.
  • कद्दूकस करते समय गाजर के बीच वाले पीले भाग को काटकर हटा दीजिए.
  • अगर आप इलायची को कूटकर छीलते हैं, तो ज्यादा आसानी से छिल जाती है.

Gajar Ka Gajrela | गाजर का गजरेला gajar-ka-gajrela
Author: 
Recipe type: Sweets
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • गाजर - 4 (500 ग्राम) (छिली हुई)
  • चीनी - ½ कप (125 ग्राम)
  • काजू - 10 से 12
  • बादाम - 10 से 12
  • फुल क्रीम दूध - 500 मि ली
  • घी - 1 छोटी चम्मच
  • इलायची - 4
Instructions
  1. मि.ली़ दूध उबालने रख दीजिए.
  2. धुली और छिली हुई गाजर लीजिए. इसके दोनों किनारे काटकर कद्दूकस कर लीजिए.
  3. दूध में उबाल आने पर कद्दूकस की हुई गाजर दूध में डाल दीजिए. इसे मिक्स करके गाढ़ा होने तक पकने दीजिए.
  4. बादाम के पतले-पतले 4 से 5 टुकड़े करते हुए काट लीजिए. काजू को दो टुकड़ों में काट लीजिए. साथ ही इलायची को छीलकर कूटकर पाउडर बना लीजिए.
  5. गजरेला में गाढ़ी कन्सिस्टेन्सी आने पर इसमें चीनी डालकर मिला दीजिए.
  6. इसी बीच,मेवे भून लीजिए. मेवे भूनने के लिए पैन में घी डाल दीजिए. घी के पिघलने पर इसमें बादाम और काजू डालकर हल्का सा भून लीजिए.
  7. थोड़े से भुने मेवे गार्निशिंग के लिए बचाकर बाकी मेवे और इलायची पाउडर हलवे में डालकर मिक्स कर दीजिए.
  8. उम्दा ज़ायके का गजरेला तैयार है, इसे प्याले में निकाल लीजिए. इसे मेवों से गार्निश कर दीजिए. आप इसे गरमागरम या ठंडा जैसे मर्जी परोस सकते हैं.

 

 

Aloo Masala Naan On Tawa – आलू मसाला नान तवे पर – Stuffed Potato Naan

आज हम आपके लिए आलू मसाला नान की रेसिपी लेकर आए हैं जिस हमने  बिना तंदूर और बिना यीस्ट का उपयोग किए हुए नॉन बनाया है. तंदूरी नान तवे पर भी बड़ी आसानी से बन जाते हैं और बहुत अच्छे बनते हैं. अगर इलेक्ट्रिसिटी गायब हो तो तंदूर और ओवन के न होने पर भी आप तवे पर नान बना कर परोस सकते हैं. ये आलू मसाला नान का स्वाद आपको बहुत पसंद आएगा.  

Aloo Masala Naan On Tawa – आलू मसाला नान तवे पर – Stuffed Potato Naan

निर्देश

बनाने की विधि

2 कप मैदा को किसी बर्तन में छान कर निकालिये. मैदा के बीच में हाथ से थोडी जगह बना लीजिये. इस बनी हुई जगह में 1/4 कप दही, 1 छोटी चम्मच चीनी, 1/2 छोटी चम्मच नमक, 1/4 छोटी चम्मच से भी कम बेकिंग सोडा और 1 टेबल स्पून तेल डालकर सारी चीजों को अच्छी तरह मिला लीजिये. अब गुनगुने पानी की सहायता से मैदा को अच्छी तरह मसल-मसल कर नरम आटा गूंथ लीजिए.

aloo masala naanहाथ पर तेल लगाकर हाथ को चिकना कर लीजिए और आटे को 5 मिनिट लगातार मसलते हुए गूंथ लीजिए. जब भी आटा मसलते हुए लगे की आटा हाथ पर चिपक रहा है तो हथेली पर थोड़ा तेल लगाकर हथेली को चिकना करें और फिर आटा मसल लीजिए. लगभग 4-5 मिनिट तक लगातार आटा मसल कर चिकना कर लेने के बाद आटे को 2.5 घंटे के लिए किसी गरम स्थान पर रख दीजिए आटा फूल कर तैयार हो जाता है.

aloo masala naanनान के लिए स्टफिंग तैयार कर लीजिए. उबले हुए आलू को छील कर अच्छे से मैश कर लीजिए. मैश किये हुये आलू में 1/4 छोटी चम्मच नमक, 1 छोटी चम्मच धनिया पाउडर, 1/4 छोटी चम्मच अमचूर, 1/4 छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर, 2 बारीक कटी हरी मिर्च, और 2 टेबल स्पून बारीक कटा हुआ धनिया डाल कर अच्छे से मिक्स कर लीजिए. आलू की स्टफिंग बन कर तैयार है.

aloo masala naan2 घंटे नान बनाने के लिए आटा सैट होकर तैयार है. तवा को गैस पर गरम होने रख दीजिये. आटे से थोड़ा सा निकाल कर एक लोई बना लीजिये. इस लोई को मैदा में लपेट कर चकले पर रख कर 3 से 4 इंच व्यास में बेल लीजिये.

aloo masala naanबेली हुई लोई पर थोड़ी सी तैयार स्टफिंग 2-3 चम्मच भरकर चारों से बंद कर दीजिये. हाथों से लोई को जरा सा दबा कर हल्का चपटा दीजिये और थोड़ा सा सूखा आटा लपेट लीजिए.

aloo masala naanलोई को हल्के हाथों से दबाव देते हुए ओवल आकार में नान बेल लीजिये.

aloo masala naanअब इस नान पर एक चम्मच पानी डाल कर चारों ओर फैला दीजिए. अब नान की पानी वाली साइड को गरम तवे पर सेकने के लिए डाल दीजिये. ऊपर की सरफेस हल्की सी डार्क होने दीजिए. निचली सतह सिकने पर तवे के हैन्डल को पकड़िये, गैस फ्लेम पर तवे को उलटा करते हुये रखिये, और तवे को इधर उधर घुमाते हुये नान को देखते हुये चारों और चित्ती आने तक नान को सेकिये. तवे को वापस सीधा करके गैस पर रखिये, नान सिक कर तैयार है.

aloo masala naanनान सिक जाने पर नान को तवे से उतार कर प्लेट पर रखी प्याली पर रख दीजिए नान पर घी लगा दीजिए. सारे नान इसी तरह बनाकर तैयार कर लीजिये.

aloo masala naan

परोसिये

गरमा गरम आलू मसाला नान को किसी भी गाढ़ी ग्रेवी वाली सब्जी, दही, रायता, चटनी या अचार किसी के भी साथ में परोसिये, और खाइये.

सुझाव

  • नान के लिए आटा जो गूंथ है उसे अच्छे से मसल मसल कर चिकना तैयार कर लीजिए.
  • नान बनाने के लिए आप नार्मल तवा ही उपयोग में लाएं. नॉनस्टिक का उपयोग न करें.
  • नान में स्टफिंग को भर कर अच्छे से बंद करें ओर हल्के हाथ से दबाव देते हुए बेलें.

Aloo Masala Naan On Tawa - आलू मसाला नान तवे पर aloo-masala-naan
Author: 
Recipe type: Main Course
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • मैदा - 2 कप (250 ग्राम)
  • दही - ¼ कप
  • घी - 2-3 टेबल स्पून
  • तेल - 2 टेबल स्पून
  • चीनी - 1 छोटी चम्मच
  • नमक - ¾ छोटी चम्मच या स्वादानुसार
  • बेकिंग सोडा - ¼ छोटी चम्मच से कम
  • उबले हुए आलू - 2
  • हरा धनिया - 2-3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
  • धनिया पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • हरी मिर्च - 2 (बारीक कटी हुई)
  • लाल मिर्च पाउडर - ¼ छोटी चम्मच
  • अमचूर पाउडर - ¼ छोटी चम्मच
Instructions
  1. कप मैदा को किसी बर्तन में छान कर निकालिये. मैदा के बीच में हाथ से थोडी जगह बना लीजिये. इस बनी हुई जगह में ¼ कप दही, 1 छोटी चम्मच चीनी, ½ छोटी चम्मच नमक, ¼ छोटी चम्मच से भी कम बेकिंग सोडा और 1 टेबल स्पून तेल डालकर सारी चीजों को अच्छी तरह मिला लीजिये. अब गुनगुने पानी की सहायता से मैदा को अच्छी तरह मसल-मसल कर नरम आटा गूंथ लीजिए.
  2. हाथ पर तेल लगाकर हाथ को चिकना कर लीजिए और आटे को 5 मिनिट लगातार मसलते हुए गूंथ लीजिए. जब भी आटा मसलते हुए लगे की आटा हाथ पर चिपक रहा है तो हथेली पर थोड़ा तेल लगाकर हथेली को चिकना करें और फिर आटा मसल लीजिए. लगभग 4-5 मिनिट तक लगातार आटा मसल कर चिकना कर लेने के बाद आटे को 2.5 घंटे के लिए किसी गरम स्थान पर रख दीजिए आटा फूल कर तैयार हो जाता है.
  3. नान के लिए स्टफिंग तैयार कर लीजिए. उबले हुए आलू को छील कर अच्छे से मैश कर लीजिए. मैश किये हुये आलू में ¼ छोटी चम्मच नमक, 1 छोटी चम्मच धनिया पाउडर, ¼ छोटी चम्मच अमचूर, ¼ छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर, 2 बारीक कटी हरी मिर्च, और 2 टेबल स्पून बारीक कटा हुआ धनिया डाल कर अच्छे से मिक्स कर लीजिए. आलू की स्टफिंग बन कर तैयार है.
  4. घंटे नान बनाने के लिए आटा सैट होकर तैयार है. तवा को गैस पर गरम होने रख दीजिये. आटे से थोड़ा सा निकाल कर एक लोई बना लीजिये. इस लोई को मैदा में लपेट कर चकले पर रख कर 3 से 4 इंच व्यास में बेल लीजिये.
  5. बेली हुई लोई पर थोड़ी सी तैयार स्टफिंग 2-3 चम्मच भरकर चारों से बंद कर दीजिये. हाथों से लोई को जरा सा दबा कर हल्का चपटा दीजिये और थोड़ा सा सूखा आटा लपेट लीजिए.
  6. लोई को हल्के हाथों से दबाव देते हुए ओवल आकार में नान बेल लीजिये.
  7. अब इस नान पर एक चम्मच पानी डाल कर चारों ओर फैला दीजिए. अब नान की पानी वाली साइड को गरम तवे पर सेकने के लिए डाल दीजिये. ऊपर की सरफेस हल्की सी डार्क होने दीजिए. निचली सतह सिकने पर तवे के हैन्डल को पकड़िये, गैस फ्लेम पर तवे को उलटा करते हुये रखिये, और तवे को इधर उधर घुमाते हुये नान को देखते हुये चारों और चित्ती आने तक नान को सेकिये. तवे को वापस सीधा करके गैस पर रखिये, नान सिक कर तैयार है.
  8. नान सिक जाने पर नान को तवे से उतार कर प्लेट पर रखी प्याली पर रख दीजिए नान पर घी लगा दीजिए. सारे नान इसी तरह बनाकर तैयार कर लीजिये.

 

मट्ठे – Mattha – Sweet Matthe Recipe

अक्सर शादियों में शगुन के साथ मीठे मट्ठे देने की पारंपरिक रीति है. चाशनी की परत चढ़े मट्ठे की त्यौहारों और पूजा के समय भी खास बनाए जाते है. आज हम उन्हीं मट्ठों की रैसिपी लेकर आए हैं. लगभग छोटी-छोटी मीठी मठरियों की भांति ही तैयार होने वाले ये मट्ठे, बहुत ही ज़ायकेदार और मिठास से भरपूर होते हैं. किसी भी विशेष उत्सव या पूजा के दिन आप भी इन मट्ठों को खुद बनाकर देखिए, सब आश्चर्यचकित रह जाएंगे. आइए हम और आप मिलकर बनाना शुरू करते हैं मीठे मट्ठे.

Mattha – Sweet Matthe Recipe

निर्देश

बनाने के लिए

पहले, मटठे बनाने के लिए, आटा गूंथ लीजिए. इसके लिए, एक बड़े प्याले में मैदा लीजिए और इसमें घी (मोयन) डाल दीजिए और अच्छे से मिक्स कर लीजिए.

Sweet mathaमैदे में थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए मठरी बनाने जैसा सख्त आटा गूंथ लीजिए. इतनी मात्रा का आटा गूंथने में ¾ कप से भी कम पानी लगता है. गुंथे हुए मैदे को ढक दीजिए और आधे घंटे तक सैट होने रख दीजिए.

sweet mathaबाद में, मैदे को फिर से थोड़ी देर मसल लीजिए. मैदे से चार लोइयां बना लीजिए. दूसरी तरफ, कड़ाई में घी दालकर गरम होने रख दीजिए.

sweet mathaएक लोई लीजिए और रोल करके चिकना पेड़ा बना लीजिए. इसे हल्का सा दबाकर चकले पर रखिए और हर ओर से एक समान 8 से 10 इंच व्यास का मट्ठा बेल लीजिए. मट्ठे को मठरी की तरह ही हल्का मोटा रखिए.

sweet mathaअब, मट्ठे में कांटे से गोचे या छेद लगा दीजिए जिससे यह तलने के बाद करारा हो. मट्ठे को पलटकर इस ओर भी गोचे लगा दीजिए.

sweet mathaघी को चैक करने के लिए, इसमें छोटी सी लोई का टुकड़ा डाल दीजिए, अगर इस पर बुलबुले बनते हैं, तो घी मध्यम गरम है और मट्ठे तलने के लिए उपयुक्त भी. कड़ाई में मट्ठा डाल दीजिए.

sweet mathaमट्ठे को दोनों तरफ से गोल्डन ब्राउन होने तक मध्यम-धीमी आंच पर फ्राय कीजिए.

sweet mathaइसके बाद, कलछी से मट्ठे को उठाकर कड़ाई के किनारे पर तिरछा रखिए ताकि इसमें से अतिरिक्त घी कड़ाई में ही वापस चला जाए. नैपकिन पेपर से ढकी प्लेट में मट्ठा निकाल लीजिए और इसी तरह बाकी मट्ठे भी तैयार कर लीजिए. एक मट्ठे को तलने में 15 मिनिट लगते हैं.

sweet mathaचाशनी के लिए, एक बर्तन में चीनी और ½ कप से कम पानी लीजिए और इसे गैस जलाकर रख दीजिए. पानी में चीनी के पूरी तरह घुलने तक, इसे उबाल लीजिए. इसके बाद, चाशनी को 4 से 5 मिनिट और उबलने दीजिए.

sweet mathaचाशनी चैक करने के लिए, किसी प्याले में 1 से 2 बूंदे लीजिए. जैसे ही ये ठंडी हो जाए, वैसे ही उंगली और अंगूठे के पोरों पर चिपकाइए और दोनों को अलग करते समय देखिए. अगर 2 तार बनते दिखें, तो चाशनी तैयार है. गैस बंद कर दीजिए.

sweet mathaचाशनी में मट्ठा डालकर इसकी परत चढ़ा लीजिए. मट्ठे को हल्का सा तिरछा रखिए ताकि अतिरिक्त चाशनी निकल जाए. इसके बाद, मट्ठे को एक प्लेट में निकाल लीजिए, मट्ठे एकदम तैयार हैं.

sweet matha

परोसिए

इन खस्ता और स्वाद से भरे मीठे मट्ठों को ऎसे ही सर्व कीजिए. जब ये अच्छे से ठंडे हो जाएं, तब आप इन्हें किसी डिब्बे में स्टोर कर सकते हैं और 1 महीने तक मज़े से खा सकते हैं.

sweet matha

मट्ठे - Sweet Matthe Recipe sweet-matha
Author: 
Recipe type: Sweets
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • मैदा- 3 कप (400 ग्राम)
  • घी- ½ कप से कम (100 ग्राम) (मोयन)
  • चीनी- 1 कप (250 ग्राम)
  • घी- मट्ठों को फ्राय करने के लिए
Instructions
  1. पहले, मटठे बनाने के लिए, आटा गूंथ लीजिए. इसके लिए, एक बड़े प्याले में मैदा लीजिए और इसमें घी (मोयन) डाल दीजिए और अच्छे से मिक्स कर लीजिए.
  2. मैदे में थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए मठरी बनाने जैसा सख्त आटा गूंथ लीजिए. इतनी मात्रा का आटा गूंथने में ¾ कप से भी कम पानी लगता है. गुंथे हुए मैदे को ढक दीजिए और आधे घंटे तक सैट होने रख दीजिए.
  3. बाद में, मैदे को फिर से थोड़ी देर मसल लीजिए. मैदे से चार लोइयां बना लीजिए. दूसरी तरफ, कड़ाई में घी दालकर गरम होने रख दीजिए.
  4. एक लोई लीजिए और रोल करके चिकना पेड़ा बना लीजिए. इसे हल्का सा दबाकर चकले पर रखिए और हर ओर से एक समान 8 से 10 इंच व्यास का मट्ठा बेल लीजिए. मट्ठे को मठरी की तरह ही हल्का मोटा रखिए.
  5. अब, मट्ठे में कांटे से गोचे या छेद लगा दीजिए जिससे यह तलने के बाद करारा हो. मट्ठे को पलटकर इस ओर भी गोचे लगा दीजिए.
  6. घी को चैक करने के लिए, इसमें छोटी सी लोई का टुकड़ा डाल दीजिए, अगर इस पर बुलबुले बनते हैं, तो घी मध्यम गरम है और मट्ठे तलने के लिए उपयुक्त भी. कड़ाई में मट्ठा डाल दीजिए.
  7. मट्ठे को दोनों तरफ से गोल्डन ब्राउन होने तक मध्यम-धीमी आंच पर फ्राय कीजिए.
  8. इसके बाद, कलछी से मट्ठे को उठाकर कड़ाई के किनारे पर तिरछा रखिए ताकि इसमें से अतिरिक्त घी कड़ाई में ही वापस चला जाए. नैपकिन पेपर से ढकी प्लेट में मट्ठा निकाल लीजिए और इसी तरह बाकी मट्ठे भी तैयार कर लीजिए. एक मट्ठे को तलने में 15 मिनिट लगते हैं.
  9. चाशनी के लिए, एक बर्तन में चीनी और ½ कप से कम पानी लीजिए और इसे गैस जलाकर रख दीजिए. पानी में चीनी के पूरी तरह घुलने तक, इसे उबाल लीजिए. इसके बाद, चाशनी को 4 से 5 मिनिट और उबलने दीजिए.
  10. चाशनी चैक करने के लिए, किसी प्याले में 1 से 2 बूंदे लीजिए. जैसे ही ये ठंडी हो जाए, वैसे ही उंगली और अंगूठे के पोरों पर चिपकाइए और दोनों को अलग करते समय देखिए. अगर 2 तार बनते दिखें, तो चाशनी तैयार है. गैस बंद कर दीजिए.
  11. चाशनी में मट्ठा डालकर इसकी परत चढ़ा लीजिए. मट्ठे को हल्का सा तिरछा रखिए ताकि अतिरिक्त चाशनी निकल जाए. इसके बाद, मट्ठे को एक प्लेट में निकाल लीजिए, मट्ठे एकदम तैयार हैं.
  12. इन खस्ता और स्वाद से भरे मीठे मट्ठों को ऎसे ही सर्व कीजिए. जब ये अच्छे से ठंडे हो जाएं, तब आप इन्हें किसी डिब्बे में स्टोर कर सकते हैं और 1 महीने तक मज़े से खा सकते हैं.

 

Steamed Cake in Idli Shape | भाप में बना, खाने में केक जैसा, दिखने में इडली – बनाने में आसान

स्टीम्ड इडली केक बच्चों का फेवरेट है. इडली की तरह दिखने वाला, खाने में केक जैसा यह स्नैक्स बच्चों के टिफिन के लिए एकदम परफेक्ट रहता है. कम मसाले वाली मूंगफली की चटनी, नारियल की चटनी, अचार या जैम के साथ इसे बच्चों के टिफिन में पैक कर दीजिए, टिफिन आपको पूरा फिनिश ही मिलेगा. सॉफ्ट और स्पंजी स्टीम्ड केक इडली बहुत ही आसानी से जल्दी तैयार भी हो जाता है.

Steamed Cake in Idli Shape | भाप में बना, खाने में केक जैसा, दिखने में इडली – बनाने में आसान

निर्देश

तैयारी के लिए

6 इलायची लीजिए और इनको छीलकर दरदरा कूट लीजिए.

sweet idli cake

बनाने की विधि

किसी बड़े प्याले में 1 कप सूजी लीजिए. इसमें 1 कप दूध डालकर इसे अच्छी तरह मिलने तक घोल लीजिए. इस घोल में 2 टेबल स्पून घी और 1/2 कप चीनी भी डालकर अच्छे से मिलने तक मिला लीजिए. इसके बाद, घोल को 15 से 20 मिनिट के लिए रख दीजिए.

sweet idli cake20 मिनिट बाद, घोल को अच्छी तरह से चम्मच से चला लीजिए. इस घोल में इलायची पाउडर और 3/4 छोटी चम्मच बेकिंग पाउडर डालकर अच्छी तरह से मिला लीजिए. घोल तैयार है.

sweet idli cakeकोई ऎसा बड़ा बर्तन लीजिए जिसमें कि इडली स्टेन्ड आ जाए. इस बर्तन को आंच पर रखिए और बर्तन में 2 कप पानी डालकर ढक दीजिए. पानी को उबलने दीजिए.

sweet idli cake इडली स्टेन्ड के सारे सांचों में थोड़ा सा घी लगाकर चिकना कर लीजिए. घोल को एक बार और चमचे से चलाकर सारे सांचों में थोड़ा थोड़ा घोल डाल दीजिए. सभी सांचों को क्रिस क्रॉस करते हुए स्टेन्ड पर अरेन्ज कर दीजिए. पानी चैक कीजिए कि उबाल आया या नही और उबाल आते ही इडली स्टेन्ड बर्तन में रखिए. बर्तन ढककर इडली को 12 मिनिट पकने दीजिए.

sweet idli cake12 मिनिट बाद, इडली पककर तैयार है. इसे चैक करने के लिए इडली के अंदर चाकू गढ़ाकर देखिए, चाकू पर बैटर बिल्कुल भी लगकर नही आ रहा है. इडली अच्छे से पककर तैयार है. इडली के सांचों को अलग-अलग करके इडली को ठंडा होने के लिए रख दीजिए.
इडली के ठंडे होने के बाद, चाकू को इडली के किनारों पर सभी ओर घुमाकर इन्हें निकालकर प्लेट में रख लीजिए.

sweet idli cake

परोसिए

उम्दा स्वाद की स्टीम्ड इडली तैयार है. यह बच्चों की फेवरेट होती है. आप इन्हें बच्चों के टिफिन में कम मसाले वाली नारियल की चटनी, मूंगफली के दानों की चटनी या अचार के साथ रख सकते हैं.

सुझाव

  • घोल में घी अपनी पसंद और स्वाद के अनुसार 1 से 4 टेबल स्पून तक डाल सकते हैं.
  • चीनी भी कम या ज्यादा ले सकते हैं.
  • इडली के घोल में मेवे- बादाम, काजू और किशमिश भी अपनी पसंद के अनुसार डाल सकते हैं.
  • घोल बनाते समय सारी चीजें नापकर लें.
  • घोल बहुत ज्यादा गाढ़ा या पतला नही होना चाहिए.
  • पानी में उबाल आने के बाद इडली को ढककर तेज आग पर पकाएं.

Steamed Cake in Idli Shape | भाप में बना, खाने में केक जैसा, दिखने में इडली - बनाने में आसान sweet-idli-cake
Author: 
Recipe type: Snacks
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • सूजी - 1 कप (180 ग्राम)
  • चीनी - ½ कप (100 ग्राम)
  • घी - 2 टेबल स्पून (30 ग्राम)
  • फुल क्रीम दूध - 1 कप
  • बेकिंग पाउडर - ¾ छोटी चम्मच
  • इलायची - 5 से 6
Instructions
  1. इलायची लीजिए और इनको छीलकर दरदरा कूट लीजिए.
  2. किसी बड़े प्याले में 1 कप सूजी लीजिए. इसमें 1 कप दूध डालकर इसे अच्छी तरह मिलने तक घोल लीजिए. इस घोल में 2 टेबल स्पून घी और ½ कप चीनी भी डालकर अच्छे से मिलने तक मिला लीजिए. इसके बाद, घोल को 15 से 20 मिनिट के लिए रख दीजिए.
  3. मिनिट बाद, घोल को अच्छी तरह से चम्मच से चला लीजिए. इस घोल में इलायची पाउडर और ¾ छोटी चम्मच बेकिंग पाउडर डालकर अच्छी तरह से मिला लीजिए. घोल तैयार है.
  4. कोई ऎसा बड़ा बर्तन लीजिए जिसमें कि इडली स्टेन्ड आ जाए. इस बर्तन को आंच पर रखिए और बर्तन में 2 कप पानी डालकर ढक दीजिए. पानी को उबलने दीजिए.
  5. इडली स्टेन्ड के सारे सांचों में थोड़ा सा घी लगाकर चिकना कर लीजिए. घोल को एक बार और चमचे से चलाकर सारे सांचों में थोड़ा थोड़ा घोल डाल दीजिए. सभी सांचों को क्रिस क्रॉस करते हुए स्टेन्ड पर अरेन्ज कर दीजिए. पानी चैक कीजिए कि उबाल आया या नही और उबाल आते ही इडली स्टेन्ड बर्तन में रखिए. बर्तन ढककर इडली को 12 मिनिट पकने दीजिए.
  6. मिनिट बाद, इडली पककर तैयार है. इसे चैक करने के लिए इडली के अंदर चाकू गढ़ाकर देखिए, चाकू पर बैटर बिल्कुल भी लगकर नही आ रहा है. इडली अच्छे से पककर तैयार है. इडली के सांचों को अलग-अलग करके इडली को ठंडा होने के लिए रख दीजिए.
  7. इडली के ठंडे होने के बाद, चाकू को इडली के किनारों पर सभी ओर घुमाकर इन्हें निकालकर प्लेट में रख लीजिए.

 

Mooli Gajar ka mix Achaar । सर्दियों के लिये खास गाजर मूली का अचार । Gaazar Muli Pickle

भोजन के साथ अचार का स्वाद भोजन के स्वाद और ज़ायको बढा़ देने का काम करता है. गाजर, मूली, अदरक और हरी मिर्च का अचार आपको काफी पसंद आएगा.  सादे खाने को मसालेदार और तीखा स्वाद देने के लिए इस अचार को एक बार बनाकर रख लीजिए और पूरे 3 से 4 माह तक मज़े से सेवन कीजिए.

Mooli Gajar ka mix Achaar । सर्दियों के लिये खास गाजर मूली का अचार । Gaazar Muli Pickle

निर्देश

तैयारी के लिए

500 ग्राम मूली, 250 ग्राम गाजर, 50 ग्राम अदरक और 50 ग्राम. हरी मिर्च को इसे अच्छे से धोकर पानी सूखने तक सुखा कर ले लीजिए.

gajar mooli ka achar

बनाने की विधि

मूली को 2 इंच के टुकड़ों में काट लीजिए और इन टुकडों को लम्बाई में पतले काट लीजिए. गाजर को भी इसी तरह से काट कर तैयार कर लीजिए और प्याले में निकाल लीजिए.

gajar mooli ka acharअदरक को लम्बाई में पतला पतला काट कर और छोटा करते हुए 2 या 3 भाग करते हुए काट लीजिए और प्याले में निकाल लीजिए.

gajar mooli ka acharहरी मिर्च को लम्बाई में दो भाग करते हुए काट लीजिए और इसे भी प्याले में निकाल लीजिए. अब इस सब में 2 छोटे चम्मच नमक डाल कर अच्छे से मिक्स कर दीजिए.

gajar mooli ka acharसभी चीजों के अच्छे से मिक्स हो जाने पर इन्हें कंटेनर में डाल कर भर दीजिए और कंटेनर को बंद कर के 24 घंटे के लिए रख दीजिए. 10-12 घंटे के बाद कंटेनर को एक बार अच्छे से हिला दीजिए ताकी कंटेनर में रखी सामग्री अच्छे से मिक्स हो जाए.

gajar mooli ka acharअगले दिन यानी के 24 घंटे बाद कंटेनर के अंदर मूली गाजर का जो जूस नीचे जमा हो गया है उसे अलग करेंगे इसके लिए किसी प्याले के ऊपर छलनी रख कर इस पर कंटेनर में रखी मूली गाजर डाल दीजिए ऐसा करने से सारा जूस नीचे प्याले में निकल जाएगा. 10 मिनिट के लिए मूली गाजर को छलनी में ही रखे रहने दीजिए ताकी सारा जूस इसमें से निकल कर प्याले में आ जाए.

gajar mooli ka acharसारा जूस निकल जाने के बाद मूली, गाजर, अदरक, मिर्च को किसी ट्रे पर डाल कर अच्छे से फैला दीजिए और धूप या पंखे की हवा के नीचे रख दीजिए ताकि बचा हुआ जूस भी सूख जाए.

gajar mooli ka acharमूली गाजर सूख कर तैयार हैं, मूली-गाजर को प्याले में निकाल लीजिए.

gajar mooli ka acharपैन में सरसों का तेल डाल कर अच्छे से गरम कर लीजिए. तेल इतना गरम करें की तेल में से धुआं उठता दिखाई दे. तेल गरम होने के बंद गैस बंद कर दीजिए और तेल को थोड़ा ठंडा होने दीजिए.

gajar mooli ka acharजब तक तेल गरम हो रहा है तब तक अचार में 2 छोटे चम्मच नमक, 1 छोटी चम्मच हल्दी पाउडर, 1 छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर, ½ छोटी चम्मच काली मिर्च, अजवायन ½ छोटी चम्मच, 6 छोटी चम्मच दरदरा कुटा सरसों पाउडर डाल दीजिए.

gajar mooli ka acharतेल के हल्का ठंडा होने पर इसमें हींग डाल कर मिक्स कर दीजिए और इस तेल को अचार में डाल कर अच्छे से मिक्स कर लीजिए.

gajar mooli ka acharसारे मसाले अच्छे से मिल जाने के बाद इसमें 2 टेबल स्पून सिरका डाल कर मिला दीजिए. मूली गाजर का स्वादिष्ट अचार बन कर तैयार है. इस अचार का सेवन अभी भी किया जा सकता हैं, पर अचार का असली स्वाद 3 दिन के बाद ही मिलेगा, जब मूली-गाजर-अदरक और हरी मिर्च मसाले को अच्छे से सोख लेंगे. अचार को किसी भी कन्टेनर में भरकर रख दीजिए और 2 से 3 दिन तक सूखे साफ चम्मच से अचार को ऊपर नीचे करते रहिए. यह अचार पूरे 3 से 4 महीनों तक रखकर खाया जा सकता है.

gajar mooli ka achar

सुझाव

  • अगर गाजर के अंदर का पीला भाग सख्त हो और आपको पसंद न हो तो आप उसे हटा सकते हैं.
  • तेल को बिना गरम किए भी उपयोग में ला सकते हैं. लेकिन अगर आप तेल का तीखापन पसंद नहीं करते हैं तो आप इसे गरम करके उपयोग में ला सकते हैं.
  • सिरका डालने से अचार का स्वाद बढ़ता है और अचार की शैल्फ लाइफ भी बढ़ जाती है.
  • जिस बर्तन में अचार बना रहे हो वह अच्छे से साफ और सूखा होना चाहिए.
  • जब भी अचार निकालें, तो साफ और सूखी चम्मच का ही उपयोग कीजिए. अचार को जिस कन्टेनर में रख रहे हैं, उसे उबले पानी से अच्छे से धो ले और फिर धूप या ओवन में सुखा लीजिए. ध्यान रखें कि कन्टेनर में किसी भी तरह की नमी न रहें.

Mooli Gajar ka mix Achaar । सर्दियों के लिये खास गाजर मूली का अचार gajar-mooli-adarak-achar
Author: 
Recipe type: Pickle
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • मूली - 500 ग्राम (छिली हुई)
  • गाजर - 250 ग्राम (छिली हुई)
  • अदरक - 50 ग्राम (छिली हुई)
  • हरी मिर्च - 50 ग्राम
  • नमक - 2 छोटी चम्मच
  • सरसों का तेल - ½ कप
  • लल मिर्च पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • हल्दी पाडर - 1 छोटी चम्मच
  • नमक - 2 छोटी चम्मच
  • काली मिर्च - ½ छोटी चम्मच (दरदरी कुटी हुई)
  • अजवायन - ½ छोटी चम्मच
  • सरसों पाउडर - 6 छोटी चम्मच (दरदरी कुटी हुई)
  • हींग - 2 पिंच
  • सिरका - 2 टेबल स्पून
Instructions
  1. ग्राम मूली, 250 ग्राम गाजर, 50 ग्राम अदरक और 50 ग्राम. हरी मिर्च को इसे अच्छे से धोकर पानी सूखने तक सुखा कर ले लीजिए.
  2. मूली को 2 इंच के टुकड़ों में काट लीजिए और इन टुकडों को लम्बाई में पतले काट लीजिए. गाजर को भी इसी तरह से काट कर तैयार कर लीजिए और प्याले में निकाल लीजिए.
  3. अदरक को लम्बाई में पतला पतला काट कर और छोटा करते हुए 2 या 3 भाग करते हुए काट लीजिए और प्याले में निकाल लीजिए.
  4. हरी मिर्च को लम्बाई में दो भाग करते हुए काट लीजिए और इसे भी प्याले में निकाल लीजिए. अब इस सब में 2 छोटे चम्मच नमक डाल कर अच्छे से मिक्स कर दीजिए.
  5. सभी चीजों के अच्छे से मिक्स हो जाने पर इन्हें कंटेनर में डाल कर भर दीजिए और कंटेनर को बंद कर के 24 घंटे के लिए रख दीजिए. 10-12 घंटे के बाद कंटेनर को एक बार अच्छे से हिला दीजिए ताकी कंटेनर में रखी सामग्री अच्छे से मिक्स हो जाए.
  6. अगले दिन यानी के 24 घंटे बाद कंटेनर के अंदर मूली गाजर का जो जूस नीचे जमा हो गया है उसे अलग करेंगे इसके लिए किसी प्याले के ऊपर छलनी रख कर इस पर कंटेनर में रखी मूली गाजर डाल दीजिए ऐसा करने से सारा जूस नीचे प्याले में निकल जाएगा. 10 मिनिट के लिए मूली गाजर को छलनी में ही रखे रहने दीजिए ताकी सारा जूस इसमें से निकल कर प्याले में आ जाए.
  7. सारा जूस निकल जाने के बाद मूली, गाजर, अदरक, मिर्च को किसी ट्रे पर डाल कर अच्छे से फैला दीजिए और धूप या पंखे की हवा के नीचे रख दीजिए ताकि बचा हुआ जूस भी सूख जाए.
  8. मूली गाजर सूख कर तैयार हैं, मूली-गाजर को प्याले में निकाल लीजिए.
  9. पैन में सरसों का तेल डाल कर अच्छे से गरम कर लीजिए. तेल इतना गरम करें की तेल में से धुआं उठता दिखाई दे. तेल गरम होने के बंद गैस बंद कर दीजिए और तेल को थोड़ा ठंडा होने दीजिए.
  10. जब तक तेल गरम हो रहा है तब तक अचार में 2 छोटे चम्मच नमक, 1 छोटी चम्मच हल्दी पाउडर, 1 छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर, ½ छोटी चम्मच काली मिर्च, अजवायन ½ छोटी चम्मच, 6 छोटी चम्मच दरदरा कुटा सरसों पाउडर डाल दीजिए,
  11. तेल के हल्का ठंडा होने पर इसमें हींग डाल कर मिक्स कर दीजिए और इस तेल को अचार में डाल कर अच्छे से मिक्स कर लीजिए.
  12. सारे मसाले अच्छे से मिल जाने के बाद इसमें 2 टेबल स्पून सिरका डाल कर मिला दीजिए. मूली गाजर का स्वादिष्ट अचार बन कर तैयार है. इस अचार का सेवन अभी भी किया जा सकता हैं, पर अचार का असली स्वाद 3 दिन के बाद ही मिलेगा, जब मूली-गाजर-अदरक और हरी मिर्च मसाले को अच्छे से सोख लेंगे. अचार को किसी भी कन्टेनर में भरकर रख दीजिए और 2 से 3 दिन तक सूखे साफ चम्मच से अचार को ऊपर नीचे करते रहिए. यह अचार पूरे 3 से 4 महीनों तक रखकर खाया जा सकता है.

 

मूंग दाल हलवा मावा के बिना – मूंग दाल हलवा मावा के बिना – Moong Dal Halwa Recipe | Instant Moong Dal Sheera | Easy Moong Dal Halva using condensed milk

शादी, पार्टियों में आप अक्सर मूंग की दाल हलवा खाते रहते होंगे. ज्यादातर लोग इस हलवे को मावा के साथ बनाते हैं. लेकिन आज हम इसे मावा के बिना तैयार करने जा रहे हैं. मूंग दाल हलवा मावा के बिना कन्डेन्सड मिल्क से बनाया जाता है. इस हलवे का स्वाद मावा से बने हलवे से भी उम्दा होता है. अगर आपको मूंग की दाल का हलवा खाने का मन करे और मावा उपलब्ध न हो तो हमारी यह नई पेशकश मूंग दाल हलवा मावा के बिना जरूर आजमाएं. आइए जानते हैं अनोखे स्वाद से भरे  मूंग दाल हलवा मावा के बिना की रैसिपी.

Moong Dal Halwa Recipe | Instant Moong Dal Sheera | Easy Moong Dal Halva using condensed milk

निर्देश

तैयारी के लिए

मूंग की दाल को अच्छे से धो लीजिए और 2 घंटे के लिए पानी में भिगोकर रख दीजिए. 2 घंटे बाद, भीगी हुई दाल में से अतिरिक्त पानी निकाल लीजिए.

moong dal halwa condensed milkबादाम और काजू को छोटे-छोटे टुकड़ों व पिस्ता को बारीक काट लीजिए.

moong dal halwa condensed milkइलाइची को थोड़ा सा कूटकर इसके छिलके हटा दीजिए और फिर दानों को कूट कर दरदरा पाउडर तैयार कर लीजिए.

moong dal halwa condensed milk

बनाने की विधि

दाल का हलवा बनाने के लिए, दाल को मिक्सर जार में डाल कर बिना पानी के हल्का दरदरा पीस लीजिए. दाल को ज्यादा बारीक मत पीसिए.

moong dal halwa condensed milkदाल को भूनने के लिए, नॉन स्टिक कड़ाई को गैस जलाकर गरम होने रख दीजिए. इससे दाल आसानी से व जल्दी भुनती है और कड़ाई में चिपकती भी नहीं है. अब, इसमें 1/2 कप से कम घी डाल दीजिए.

moong dal halwa condensed milkघी के पिघलने पर कड़ाई में पिसी हुई दाल डाल दीजिए. दाल को गोल्डन ब्राउन होने तक लगातार चलाते हुए मध्यम आंच पर भून लीजिए. (कलछी को कड़ाई के तले तक ले जाते हुए दाल को कड़ाई से निकालते हुए हलवे को भूनिये.)

moong dal halwa condensed milkजब दाल गोल्डन ब्राउन हो जाए, अच्छी खुशबू आने लगे और दाल से घी अलग होने लगे, तब गैस को धीमा कर दीजिए. इसके बाद, इसमें 1.5 कप पानी और कन्डेन्सड मिल्क डाल दीजिए.

moong dal halwa condensed milkदाल के अच्छे से फूलने के लिए, हलवे को धीमी आंच पर पकने दीजिए और हलवे को बीच-बीच में कलछी से चलाते रहिये.

moong dal halwa condensed milkजब दाल फूल जाए, तब इसमें आधे से ज्यादा कटे हुए काजू- बादाम और इलाइची पाउडर डाल दीजिए. सभी सामग्री को हलवे में अच्छे से मिक्स कर दीजिए और इसे लगातार चलाते हुए थोड़ी देर भून लीजिए.

moong dal halwa condensed milkअब. हलवा पककर गाढ़ा गो गया है. इसमें थोड़ा सा घी डाल कर अच्छे से मिला लीजिए. ऊपर से घी डालने पर हलवे का स्वाद और भी बढ़ जाता है. हलवा तैयार है, इसे एक प्लेट में निकाल लीजिए और गैस बंद कर दीजिए.

moong dal halwa condensed milk

परोसिए

हलवे के ऊपर थोड़ा और घी डाल लीजिए. हलवे के ऊपर तैरता घी बेहतरीन लगता है. हलवे को कटे हुए बादाम और काजू से सजाइए. स्वाद से भरपूर मूंग की दाल का हलवा मावा के बिना परोसने के लिए तैयार है. इसे भोजन के बाद या जब भी मीठा खाने का मन करे तब गरमागरम खाइए. इस हलवा को फ्रिज में स्टोर कर लीजिए और 3 से 4 दिनों तक मज़े से खाइए.

moong dal halwa condensed milk

सुझाव

  • आप हलवे में रंग लाने के लिए, इसमें थोड़ा सा पीला रंग या केसर भी डाल सकते हैं.

मूंग दाल हलवा - Easy Moong Dal Halva using condensed milk moong-dal-halwa-condensed-milk
Author: 
Recipe type: Sweets
Cuisine: Indian
Prep time: 
Cook time: 
Total time: 
Serves: 4
 
Ingredients
  • मूंग दाल -1/2 कप (100 ग्राम) (भीगी हुई)
  • कन्डेन्सड मिल्क - 1 कप (250 ग्राम)
  • घी -1/2 कप (100 ग्राम)
  • काजू - 10 से 12
  • बादाम - 10 से 12
  • पिस्ता - 1 टेबल स्पून
  • इलाइची - 6 से 7
Instructions
  1. मूंग की दाल को अच्छे से धो लीजिए और 2 घंटे के लिए पानी में भिगोकर रख दीजिए. 2 घंटे बाद, भीगी हुई दाल में से अतिरिक्त पानी निकाल लीजिए.
  2. बादाम और काजू को छोटे-छोटे टुकड़ों व पिस्ता को बारीक काट लीजिए.
  3. इलाइची को थोड़ा सा कूटकर इसके छिलके हटा दीजिए और फिर दानों को कूट कर दरदरा पाउडर तैयार कर लीजिए.
  4. दाल का हलवा बनाने के लिए, दाल को मिक्सर जार में डाल कर बिना पानी के हल्का दरदरा पीस लीजिए. दाल को ज्यादा बारीक मत पीसिए.
  5. दाल को भूनने के लिए, नॉन स्टिक कड़ाई को गैस जलाकर गरम होने रख दीजिए. इससे दाल आसानी से व जल्दी भुनती है और कड़ाई में चिपकती भी नहीं है. अब, इसमें ½ कप से कम घी डाल दीजिए.
  6. घी के पिघलने पर कड़ाई में पिसी हुई दाल डाल दीजिए. दाल को गोल्डन ब्राउन होने तक लगातार चलाते हुए मध्यम आंच पर भून लीजिए. (कलछी को कड़ाई के तले तक ले जाते हुए दाल को कड़ाई से निकालते हुए हलवे को भूनिये.)
  7. जब दाल गोल्डन ब्राउन हो जाए, अच्छी खुशबू आने लगे और दाल से घी अलग होने लगे, तब गैस को धीमा कर दीजिए. इसके बाद, इसमें 1.5 कप पानी और कन्डेन्सड मिल्क डाल दीजिए.
  8. दाल के अच्छे से फूलने के लिए, हलवे को धीमी आंच पर पकने दीजिए और हलवे को बीच-बीच में कलछी से चलाते रहिये.
  9. जब दाल फूल जाए, तब इसमें आधे से ज्यादा कटे हुए काजू- बादाम और इलाइची पाउडर डाल दीजिए. सभी सामग्री को हलवे में अच्छे से मिक्स कर दीजिए और इसे लगातार चलाते हुए थोड़ी देर भून लीजिए.
  10. अब. हलवा पककर गाढ़ा गो गया है. इसमें थोड़ा सा घी डाल कर अच्छे से मिला लीजिए. ऊपर से घी डालने पर हलवे का स्वाद और भी बढ़ जाता है. हलवा तैयार है, इसे एक प्लेट में निकाल लीजिए और गैस बंद कर दीजिए.
  11. हलवे के ऊपर थोड़ा और घी डाल लीजिए. हलवे के ऊपर तैरता घी बेहतरीन लगता है. हलवे को कटे हुए बादाम और काजू से सजाइए. स्वाद से भरपूर मूंग की दाल का हलवा मावा के बिना परोसने के लिए तैयार है. इसे भोजन के बाद या जब भी मीठा खाने का मन करे तब गरमागरम खाइए. इस हलवा को फ्रिज में स्टोर कर लीजिए और 3 से 4 दिनों तक मज़े से खाइए.